कभी पुलिस का धरना तो कभी वकीलों का प्रदर्शन, आज वकीलों की बारी

कल दिल्ली के जवान अपनी साख को लेकर हंगामा कर रहे थे, पुलिस कर्मियों ने कल पुलिस मुख्यालय पर धरना दिया था, और अपनी ड्यूटी पर वापस जाने से इनकार किया था, मगर आज दिल्ली पुलिस के जवान काम पर लौट आए हैं, लेकिन ये यहीं खत्म नहीं होता, आज अपने जोक की आजमाइश दिल्ली के वकील करेंगे, क्योंकि आज वकीलों के हंगामे का दिन है. रोहिणी कोर्ट के बाहर वकील प्रदर्शन कर रहे हैं. कोर्ट में वकील लोगों को अंदर नहीं जाने दे रहे हैं.
दिल्ली पुलिस के जवान काम पर लौट आए हैं, लेकिन आज वकीलों के हंगामे का दिन है. रोहिणी कोर्ट के बाहर वकील प्रदर्शन कर रहे हैं. इतना ही नहीं प्रदर्शन कर रहे वकील किसी को कोर्ट में दखिल नहीं होने दे रहे हैं, और लोगों को अंदर नहीं जाने दे रहे हैं.
कल मंगलवार को सभी साक्षी रहे पुलिस के हंगामे के, सभी ने देखा कैसे पुलिस ने अपने काम को ताक पर रख के, सड़को पर धरना दिया, पर किसी तरह आज पुलिस वाले काम पर आने को माने तो,आज यानी बुधवार को वकील हंगामा कर रहे हैं. दिल्ली पुलिस के खिलाफ नारेबाजी कर रहे वकीलों का कहना है कि मीडिया को बरगलाया गया और वकीलों को पीटने का वीडियो नहीं दिखाया गया.
आज रोहिणी कोर्ट के बाहर प्रदर्शन कर रहे वकीलों ने न्याय की मांग करते हुए ‘वी वॉंट जस्टिस’ के नारे लगाऐ, आपको जान कर बेहद परेशानी होगी, कि राजधानी की सभी जिला अदालतों के वकील हड़ताल पर हैं. राजधानी की छह जिला अदालतों जिसमें तीस हजारी, कड़कड़डूमा, साकेत, द्वारका, रोहिणी और पटियाला हाउस के सभी वकीलों ने काम का बहिष्कार किया.
आज पुलिस वकील मामले पर हाईकोर्ट में सुनवाई होनी है, आपको बता दें, इस टकराव के चलते केंद्र सरकार ने हाईकोर्ट का रुख किया है. गृह मंत्रालय ने कोर्ट से 3 नवंबर को जारी किए गए उसके आदेश पर सफाई मांगी है. तीस हजारी कोर्ट में हुए विवाद के बाद हाईकोर्ट ने वकीलों के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं करने से जुड़ा आदेश पारित किया था.
दिल्ली पुलिस ने कल अपने मुख्यालय पर दिन भर धरना दिया । लेकिन शाम होते होते धरना खत्म हो गया । और पुलिसकर्मी अपने काम पर लौट गए हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *