मोदी के काम को देख चिनफिंग क्यों हुए मुरीद

देश के प्रधानमंत्री स्वच्छ भारत को जितना तवज्जो देते हैं, लोगों से अपने आस पास सफाई रखने के अपील करते हैं, उतना ही खुद जिम्मेदारी लेते हैं, अपने इस अभियान को सफल बनाने के लिए, कभी ऐसा प्रधानमंत्री देखा है, जो अपने देश से जुड़ी समस्याओं के लिए पहल करते हैं, यूं तो काफी बार, नेताओं की तसवीरें सफाई करते हुए सामने आती रहती हैं, लेकिन अगर देश का प्रधानमंत्री , बीच पर कूड़ा उठाता नजर आए तो ये आम लोगों के लिए बहुत प्रेरणादायक है, ऐसी ही एक वीडियो आज देखने को मिली, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी चीनी राष्ट्रपति शी चिनफिंग से अनौपचारिक बातचीत के लिए तमिलनाडु के महाबलीपुरम में हैं. कल की अपनी मुलाकात के बाद आज सुबह पीएम जब महाबलीपुरम के समुद्र तट पर जॉगिंग के लिए निकले उसी दौरान तट पर कूड़ा देख रुक गए, और फिर क्या था, प्रधानमंत्री जुट गए उस कूड़े को वहां से उठाने में, सारे प्लास्टिक और कूड़े को उठा कर एक जगह रख, उन्होंने होटल के स्टाफ बॉय को सौंप दिया । जिसके बाद पीएम मोदी ने एक वीडियो ट्वीट किया , जिसमें समुद्र तट पर वे कूड़ा-कचरा उठाते हुए दिख रहे हैं. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्वीट कर कहा, ‘आज सुबह ममल्लापुरम के एक तट पर करीब 30 मिनट तक जॉगिंग के साथ साफ-सफाई की. हम सभी को यह सुनिश्चित करना चाहिए कि हमारे सार्वजनिक स्थान साफ-सुथरे रहें. साथ ही हमें यह भी सुनिश्चित करना चाहिए कि हम फिट और स्वस्थ रहें.’ इसी के साथ आपको ये भी बता दें कि आज पीएम मोदी और चीन के राष्ट्रपति शी चिनफिंग के बीच महाबलीपुरम में वार्ता का दूसरा दिन है, भारत और चीन के बीच शिखर वार्ता सुबह 10 बजे शुरू होगी और क़रीब पौने बारह बजे तक चलेगी. वार्ता के दौरान दोनों देशों के बीच कई अहम समझौते होंगे. साथ ही दोनों देश आपसी व्यापार और चरमपंथ जैसे ख़तरों पर भी बात करेंगे. क़रीब 11 बजे दोनों देशों के बीच प्रतिनिधिमंडल स्तर की भी बातचीत होगी. इस वार्ता के बाद क़रीब पौने बारह बजे पीएम मोदी और राष्ट्रपति शी चिनफिंग के साथ लंच करेंगे. लंच के बाद चीन के राष्ट्रपति चेन्नई के लिए रवाना होंगे और क़रीब डेढ़ बजे वे वापस लौट जाएंगे. इससे पहले कल पीएम मोदी और चीनी राष्ट्रपति शी चिनफिंग की अनौपचारिक मुलाक़ात हुई थी, जहां पीएम मोदी ने महाबलीपुरम के ऐतिहासिक स्थलों की सैर कराने के बाद डिनर पर उनसे क़रीब ढाई घंटे बातचीत की थी.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *