पाकिस्तान ने खेला गंदा खेल, करतारपुर कॉरिडोर की वीडियो में दिखाए 3 मारे गए खालिस्तानियों ।

कहते हैं जंगली जानवर और वादे करता पाकिस्तान, दोनों में से किसी पर भी भरोसा नहीं करना चाहिए, दोनों ही एक आम इसान के भरोसे के लायक नहीं हैं, हर बार पाक पर भरोसा कर भारत को धोका ही मिलता है, ऐसा ही हाल नें दोबारा हुआ है, कर्तारपुर कॉरिडोर पर बार बार, राजनीति हो रही थी, कभी, श्रद्धालूओं से टेक्स के तौर पर पैसे लेने की बात तो कभी, करतारपुर कॉरिडोर की वीडियो में 3 मारे गए खालिस्तानियों की तस्वीरें दिखाने की बात ।

मामला करतारपुर कॉरिडोर का है, जहां उद्घाटन के समय, एक वीडियो सॉन्ग को पंजाबी भाषा में पेश किया गया जिसमें ननकाना साहिब में तीर्थयात्रा के लिए आ रहे हैं। वीडियो में पाकिस्तान सरकार ने खुद की तारीफ करते हुए भी दिखाया गया है।

इस हफ्ते पाकिस्तान के करतारपुर में डेरा बाबा नानक मंदिर को जोड़ने वाले गलियारे का उद्घाटन हैं। जहां पाकिस्तान की सरकार की तरफ से करतारपुर कॉरिडोर पर सॉन्ग की वीडियो भी शेयर की गई। इस गीत में कांग्रेस नेता नवजोत सिंह सिद्धू और एसएडी नेता हरसिमरत कौर बादल भी हैं, लेकिन आगे ये दृश्य दिखा कर पाकिस्तान ने एक बार फिर नापाक हरकत की है।

करतारपुर सॉन्ग के बारे में आपको बताते हैं, ये पंजाबी भाषा में था , इस गाने में सबसे पहले तो पाक ने अपनी तारीफों के पुल बाधें हुए हैं, उसके बाद कॉंग्रेस के नेता नवजोत सिंह सिद्धू और एसएडी नेता हरसिमरत कौर बादल को दिखाया गया है, जिसके बाद बीच में, 3 खालिस्तानियों को भी दिखाया गया है, इसके सोशल मीडिया में वायरल होने के पीछे की सच्चाई कुछ और है। बता दें कि इस वीडियो में पाकिस्तान खुले तौर पर मारे गए तीन खालिस्तानी अलगाववादी नेताओं की तस्वीरें दिखा रहा है।

आपको बता दें कि भारत पिछले 70 सालों से लगातार करतारपुर कॉरिडोर खोलने की मांग करता रहा है, लेकिन 2 साल पहले पाकिस्तान ने अचानक यह फैसला लेकर और इसमें तेजी से आगे बढ़कर सबको अचंभित कर दिया था। वहीं, इस कॉरिडोर का उद्घाटन सिख धर्म के संस्थापक गुरु नानक देव की 550 वीं जयंती से पहले करने का तय हुआ है।

वहीं, पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने कांग्रेस नेता नवजोत सिंह सिद्धू को औपचारिक निमंत्रण भेजा है। वहीं, सिद्धू पहले ही उद्घाटन समारोह में शामिल होने के लिए इच्छा जता चुके हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *