पुलिस और वकीलों की झड़प, किरण बेदी के सुनाए नारे

दिल्ली पुलिस और वकीलों की लड़ाई पर कमिश्नर अमूल्य पटनायक की अपील के बाद भी पुलिस वालों का हंगामा जारी है। वकील हो या पुलिस दोनों ही सुनने के नाम नहीं ले रहें हैं, घंटों चले हंगामे के बाद दोपहर में पुलिस कमिश्नर अमूल्य पटनायक सामने आए और पुलिसवालों से काम पर लौटने की अपील की पर, उनको भी किरण बेदी के नाम वाले नारे सुनने को मिले। बदले में पटनायक ने कहा कि यह पुलिस विभाग के लिए परीक्षा की घड़ी है।

पटनायक ने सभी से कानून-व्यवस्था बनाए रखने की आपील की, और सबसे कहा की दोनों ही पक्षों को अपना फर्ज निभाना चाहिए। इतने पर भी पुलिस वाले नहीं माने, और तो और पुलिस वालों की नारेबाजी तेज हो गई। इस दौरान किरण बेदी के नारे भी गूंजे। पुलिसवालों की मांग है की उन्हें किरण बेदी जैसा दमदार अफसर चाहिए जो हमारी बात को बेहतर तरीके से समझे और आगे रख सके।

उधर पटनायक ने पुलिस वालों का पक्ष लेते हुए कहा की कहा, की ‘पिछले कुछ दिनों से हालात दिल्ली पुलिस के लिए परीक्षा की घड़ी जैसे हैं। वैसे दिल्ली पुलिस हमेशा से चुनौतियों का सामना करती आई है। दिल्ली पुलिस को तरह-तरह के हालात को हैंडल करते हैं। पिछले कुछ दिनों में जो घटनाएं हुई हैं, हमारे उत्तरी जिले के अफसरों ने उसे अच्छे तरीके से संभाला। “हमें एक अनुशासित बल की तरह व्यवहार करना चाहिए। आप काम पर लौट जाएं। दिल्ली पुलिस के लिए यह परीक्षा, अपेक्षा और प्रतीक्षा की घड़ी है। आपकी चिंताओं पर ध्यान दिया जाएगा।”
-अमूल्य पटनायक, पुलिस कमिश्नर

इधर पुलिस वालों से अपील करते हुए दिल्ली के पुलिस मुखिया पटनायक ने कहा कि इस स्थिति को हम परीक्षा की तरह मानें और जो शपथ हम लेते हैं उसे याद में रखें । दिल्ली की जनता का भरोसा भी कायम रखने की अपील की है, हम कानून के रखवाले हैं। अब तक जैसे हम कानून व्यवस्था को बनाए रखे हुए हैं, वैसे आगे भी रखें। परीक्षा, अपेक्षा के बाद हमारे लिए प्रतीक्षा की भी घड़ी है। कोर्ट के आदेश पर जांच टीम गठित हुई है। हमें उस पर विश्वास रखना चाहिए और फैसला आने की प्रतीक्षा करनी चाहिए।

उधर, बार काउंसिल ऑफ इंडिया ने हिंसा में शामिल वकीलों के नाम मंगाए हैं और उन्हें आज ही हड़ताल वापस लेने के लिए कहा है और वकीलों को चेतावनी दी है कि यदि कोई भी वकील हिंसक घटनाओं या तोड़फोड़ में शामिल पाया गया तो उसके खिलाफ सख्त कार्रवाई होगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *