शिवसेना पर अपना दाव भारी, शरद पवार ने भी रोटेशनल CM पर दी मंजूरी .

शिवसेना पर अपना दाव भारी, शरद पवार ने भी रोटेशनल CM पर दी मंजूरी .

सरकार निर्माण को लेकर पार्टियां अपना अपना दावा पेश कर रही हैं, लेकिन महाराष्ट्र में इसका कोई हल नहीं निकल पा रहा है, महाराष्ट्र में सरकार गठन को लेकर कुछ साफ तौर पर नजर नहीं आ रहा है, सरकार बनाने को लेकर, नये पेच फंसते नजर आ रहे हैं. कांग्रेस सरकार का कहना है कि एनसीपी चीफ शरद पवार की तरफ से देरी हो रही है, कांग्रेस की तरफ से नहीं . इसके पीछे कांग्रेस की थ्योरी है कि शरद पवार चाहते हैं कि दोनों पार्टियों शिवसेना और एनसीपी को ढाई-ढाई साल सीएम पद मिले.
आपको बता दें महाराष्ट्र विधानसभा में शिवसेना ने 56 सीटों पर दावेदारी दी, और एनसीपी ने 54 सीटें जीती हैं. जिसके चलकेदेखा जाए तो एनसीपी के पास शिवसेना के मुकाबले महज दो सीटें कम हैं. हालांकि, एनसीपी की तरफ से लगातार महाराष्ट्र में वैकल्पिक सरकार देने की बात की जा रही है.

वहीं आज मंगलवार की सुबह एनसीपी के बड़े नेता अजित पवार ने कहा है, हमने पूरा दिन कांग्रेस के समर्थन पत्र का इंतजार किया क्योंकि कांग्रेस के बिना हमारे समर्थन का कोई मतलब नहीं है. अजित पवार ने कांग्रेस को आगे आने की हिदायत दी. और कहा की एनसीपी की तरफ से कोई देरी नहीं है, वहीं पार्टी अध्यक्ष पवार ने कहा कि हम कांग्रेस से बात करेंगे और राज्यपाल से ज्यादा वक्त मांगने की कोशिश करेंगे.

दूसरी तरफ शिवसेना और एनसीपी के नेता लगातार सरकार बनाने को लेकर दावे कर रहे हैं. आज सुबह एनसीपी नेता छगन भुजबल शिवसेना नेता संजय राउत से मिलने अस्पताल पहुंचे, कहा कि एनसीपी, कांग्रेस और शिवसेना की सरकार बनेगी और इसमें कोई समस्या नहीं है.

वहीं, शिवसेना नेता मनोहर जोशी ने भी सरकार की उम्मीद जताई. उन्होंने कहा कि शिवसेना की सरकार जरूर बनेगी और कांग्रेस साथ आएगी.

लिहाजा, अब भी सबकी नजर कांग्रेस की तरफ है. दिल्ली में कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोेनिया गांधी के आवास पर पार्टी नेताओं की बैठक हो रही है. इस बैठक में क्या फैसला लिया जाता है अब सबकी नजर इस पर है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *