Saturday, July 13, 2024
No menu items!
Google search engine
HomeUTTAR PRADESHसूरज पाल उर्फ भोले बाबा ने हाथरस हादसे पर तोड़ी चुप्पी

सूरज पाल उर्फ भोले बाबा ने हाथरस हादसे पर तोड़ी चुप्पी

हाथरस भगदड़ हादसे के बाद पहली बार सूरज पाल उर्फ भोले बाबा उर्फ नारायण साकार विश्व हरि मीडिया के सामने आकर बयान दिया है उसने कहा है कि दो जुलाई की घटना से मैं बहुत दुखी हूं। बाबा ने कहा कि भगवान हम सबको इस दर्द को सहने की शक्ति दे। सूरजपाल उर्फ ‘भोले बाबा’ ने कहा कि कृपया सरकार और प्रशासन पर भरोसा रखें। मुझे विश्वास है कि जिसने भी अराजकता फैलाई है, उसे बख्शा नहीं जाएगा।

बाबा ने बताया कि मैंने अपने वकील एपी सिंह के माध्यम से समिति के सदस्यों से अनुरोध किया है कि वे शोक संतप्त परिवारों और घायलों के साथ खड़े रहें और जीवन भर उनकी सहायता करें।बाबा ने कहा कि पीड़ितों की मदद करूंगा। मृतकों के परिजनों के हमेशा साथ हूं। सूरजपाल ने भगदड़ को साजिश बताया।

हादसे का मुख्य आरोपी देवप्रकाश मधुकर गिरफ्तार

आपको बता दें, हाथरस में सत्संग के दौरान भगदड़ से हुई 121 मौतों के मामले में फरार मुख्य आरोपी देवप्रकाश मधुकर ने शुक्रवार की रात को दिल्ली में सरेंडर कर दिया। सुप्रीम कोर्ट के एडवोकेट MP सिंह ने दावा किया कि मधुकर को रात करीब दस बजे उत्तर प्रदेश पुलिस के विशेष जांच दल को सौंप दिया है। हाथरस पुलिस मधुकर को उत्तर प्रदेश के साथ राजस्थान व हरियाणा में तलाश करने का दावा कर रही थी। सरेंडर के बाद उसे गिरफ्तार कर लिया गया। इस मामले में दर्ज प्राथमिकी में मुख्य सेवादार मधुकर इकलौता नामजद आरोपी है। उस पर एक लाख रुपये का इनाम घोषित था।

दरअसल वकील MP सिंह ने कहा, मधुकर दिल्ली में इलाज करा रहा था। हम जांच में पूरी सहायताकरना चाहते हैं। सत्संग के लिए मधुकर ने ही प्रशासन से अनुमति ली थी। कार्यक्रम का मुख्य आयोजनकर्ता भी वही था। उस पर गैर इरादतन हत्या, सबूत मिटाने समेत भारतीय न्याय संहिता की विभिन्न धाराओं में केस दर्ज है।

हाथरस पुलिस का दावा

हाथरस के SP निपुण अग्रवाल ने मीडिया से बातचीत के दौरान बताया कि 1 लाख के इनामी मधुकर की पुलिस टीम ने गिरफ्तारी कर ली है। यह गिरफ्तारी दिल्ली से राह चलते हुई है। अस्पताल से कोई गिरफ्तारी नहीं की गई है।

यह भी पढ़े: मोदी को लेकर लालू यादव ने कर दी बड़ी भविष्यवाणी

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments